आजम खान ने दिया अंबेडकर मूर्ति में उंगली को लेेकर विवादित बयान

133

2015_12$largeimg06_Sunday_2015_215401082

गाजियाबाद: उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री मोहम्मद आजम खान ने सोमवार को एक बार फिर विवादित बयान दिया. इस बार उन्होंने डॉ. भीमराव अंबेडकर की मूर्तियों में उनकी एक उंगली रहने का नया मतलब निकाला है.

उनके मुताबिक, अंबेडकर की उठी हुई उंगली इशारा करती है कि ‘वो खाली प्लॉट हमारा है.’ आजम खान ने यह बात गाजियाबाद में बने आला हजरत हज हाउस के उद्घाटन समारोह में कही. इस मौके पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी उपस्थित थे.

मंत्री आजम ने कहा कि समूचे उत्तर प्रदेश में अंबेडकर की मूर्तियां जिस तरह लगी हैं, उन सभी में उनके खड़े हाथ और इशारा कर रही उंगली बसपा के ‘मूल उद्देश्य’ को दर्शाती है. उन्होंने कहा कि अंबेडकर की उठी हुई उंगली इशारा करती है कि ‘यह जमीन तो मेरी है ही, वह सामने वाला प्लॉट जो खाली है, वहां भी मैं जल्दी ही आऊंगा.’

आजम खान ने मुस्लिमों की तरफ इशारा करते हुए उनसे पूछा, “बसपा के लोग आप सबके नाम पर सरकार बनाने की बात करते हैं, लेकिन इन लोगों ने क्या एक भी पार्क आपके पूर्वजों के नाम से बनाया है?” मंत्री ने इस मौके पर मीडिया पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा, “मीडिया के लोग हमारे मौलवियों के पीछे भी पड़े हैं.”

 दरअसल, पिछले दिनों बिजनौर के एक मौलवी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था. इस वीडियो में मौलवी एक महिला के साथ आपत्तिजनक अवस्था में थे. बाद में महिला ने मौलवी पर दुष्कर्म का आरोप भी लगाया था. कैबिनेट मंत्री ने इसका ठीकरा मीडिया पर फोड़ते हुए कहा, “मीडिया के लोग अब मौलवियों को भी नहीं छोड़ रहे हैं.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here