दून के VVIP इलाके से जिन्दा कारतूस और खोखे बरामद होने से फैली सनसनी, ख़ुफ़िया तंत्र अलर्ट

231

बड़ी खबर : राजधानी देहरादून में गड़तंत्र दिवस से पहले पुलिस ने एक बड़ी कामयाबी मिली है. देहरादून कैंट थाने की पुलिस में आज भारी मात्रा में जिंदा कारतूस और खोखे बरामद किए हैं. करीब 8000 कारतूस और 119 जिंदा कारतूस खोको के साथ आज पुलिस ने 4 लोगों को गिरफ्तार किया है गिरफ्तार अभियुक्तों में एक पुरुष या 3 महिलाएं शामिल है

देहरादून में आर्मी इलाके से चोरी हुए कारतूस के आठ हजार खोखों के साथ पुलिस ने तीन महिला सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया। पुलिस ने आरोपी मुस्तकीम, सीमा साहनी, शिव कुमारी, पिंकी से जिंदा कारतूस भी बरामद किए है। चारों कबाड़ी का काम करते हैं। जिसमे से तीनो महिलाएं मूल रूप से बिहार के रहने वाले हैं। जो हाल में खुड़बुड़ा इलाके में रहकर कबाड़ बिनने का काम करती हैं। वही चौथा आरोपी मुस्तकीम सहारनपुर का रहने वाला है। वह कबाड़ी की दुकान चलाता है। इनके पास से एसएलआर के 129 जिंदा कारतूस मिले हैं।

बताया जा रहा है कि यह सभी कारतूस चोरी के हैं, पुलिस ने इनको गढ़ी कैंट क्षेत्र के आर्मी इलाके घँघोडा से इन को बरामद किया है पूरे मामले में आर्मी इंटेलिजेंस सहित एलआइयू और आईबी लगातार आरोपियों पूछताछ कर रही है

वही इतनी बड़ी कारतूस की खेप मिलने से पूरे पुलिस और खुफिया तंत्र में सनसनी फैल गई है पुलिस और खुफिया महकमा इस बात का पता लगा रहा है कि आखिर इतनी बड़ी संख्या में इन जिंदा कारतूस की खेप आखिरकार इस वीवीआईपी इलाके में आई कहां से, क्योंकि जिस जगह पर यह कारतूस मिले हैं उस से महज कुछ ही दूरी पर सीएम आवास और राज भवन स्थित है. ऐसे में सुरक्षा के लिहाज से यहां बहुत बड़ा गंभीर विषय है.

लिहाजा पुलिस और इंटेलिजेंस लगातार चार लोगों से पूछताछ कर रही है कि आखिर उनके पास यह खोके और कारतूस आए कहां से अगर आर्मी इलाके में इस प्रकार के जिंदा कारतूस और आंखों के मिल रहे हैं तो यह अपने आप में एक गंभीर विषय है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here