स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी ने कहा-उत्तराखंड में नहीं है ऑक्सीजन की कमी….

49

उत्तराखंड में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच उठ रही ऑक्सीजन की कमी को लेकर स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी ने कहा है कि प्रदेश में ऑक्सीजन की उपलब्धता में किसी तरह की फिलहाल दिक्कतें नहीं है। प्रदेश के तीनों ऑक्सीजन प्लांट सही तरह से कार्य कर रहे हैं। उत्तराखण्ड में कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी से वृद्धि हो रही है। संक्रमितों की संख्या लगातार तीन दिनों से ढाई हजार पार आ रही है तो वहीं संक्रमण से होने वाली मौतों से भी हालात चिंताजनक हैं। इन हालात में सरकार ने भी चिंता जाहिर की है और लोगों से लगातार सावधानी बरतने की अपील की जा रही है।
वहीं स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी ने कहा है कि प्रदेश में ऑक्सीजन की उपलब्धता में किसी तरह की फिलहाल दिक्कतें नहीं है। प्रदेश के तीनों ऑक्सीजन प्लांट सही तरह से कार्य कर रहे हैं। जिला अधिकारियों को उन्हें अपने अधिकार क्षेत्र में लेने के निर्देश दिए गए हैं। स्वास्थ्य सचिव ने बताया है कि केंद्र की गाइडलाइन के मुताबिक इंडस्ट्रियल ऑक्सीजन की सप्लाई को फिलहाल रोका गया है केवल मेडिकल सप्लाई ही जारी रखी गई है। प्रदेश में रेमेडिसिवर इंजेक्शन की स्थिति को लेकर स्वास्थ्य सचिव ने कहा है कि पहले की तुलना में स्थिति अब बेहतर है। कल ही इंजेक्शन की एक और खेप केंद्र के द्वारा भेजी गई है। उत्तराखंड में बढ़ते मामलों को लेकर हॉस्पिटल में बेड और वेंटिलेटर को लेकर भी चिंता बढ़ने लगी है। स्वास्थ्य सचिव का कहना है कि स्थिति अभी कंट्रोल में है किसी तरह की चिंता नहीं है। राजधानी में ज्यादा मामला बढ़ने के कारण फोकस देहरादून पर हैै। स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी ने कहा है कि मुख्यमंत्री बढ़ते मामलों को लेकर गंभीर है। सभी आला अधिकारी की बैठक में मुख्य मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि अस्पतालों में पबन बेड्स की स्थिति को बढ़ाया जाए ज्यादा से ज्यादा ऑक्सीजन बेड उपलब्ध कराए जाएं मास्क नहीं पहनने वाले लोगों के चालान भी किए जाएं।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here